Health

सुपेबेड़ा के लोगों को इलाज की हर सुविधा उपलब्ध कराएगी सरकार – श्री टी.एस. सिंहदेव : स्वास्थ्य मंत्री किडनी की बीमारी के पीड़ितों से मिलने पहुंचे सुपेबेड़ा

तेलनदी का पानी शीघ्र पहुंचेगा गांव किडनी पीड़ितों को रायपुर एम्स में इलाज कराने की अपील
स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव आज गरियाबंद जिले के सुपेबेड़ा पहुंचकर किडनी की बीमारी से जूझ रहे ग्रामीणों से मिले। उन्होंने ग्रामीणों से रू-ब-रू चर्चा कर उन्हें आश्वस्त किया कि सरकार सुपेबेड़ा के लोगों को इलाज की सभी सुविधाएं उपलब्ध कराएगी। स्वास्थ्य मंत्री के साथ संचालक, स्वास्थ्य सेवाएं श्री नीरज बंसोड़ और अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) रायपुर के डायरेक्टर डॉ. नितिन नागरकर भी किडनी की बीमारी से प्रभावित ग्रामीणों से मिलने पहुंचे थे।
स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंहदेव ने स्थानीय निवासियों को रायपुर आकर एम्स में उपचार कराने की अपील की। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न क्षेत्रों के लोग रायपुर एम्स इलाज कराने आ रहे हैं। वहां उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं के प्रति लोगों का विश्वास बना है। स्वास्थ्य मंत्री ने सुपेबेड़ा के पीड़ित लोगों के लिए देवभोग में स्थापित डायलिसिस सुविधा और डायलिसिस मशीन का उपयोग नहीं होने पर चिंता जाहिर की। उन्होंने वहां बेहतर सुविधाओं के लिए एक विशेषज्ञ चिकित्सक की सेवाएं उपलब्ध कराने की बात कही। श्री सिंहदेव ने कहा कि प्रभावित लोग उपचार के लिए सीधे सरकारी अस्पताल पहुंचे। रायपुर के डी.के.एस. अस्पताल में आप लोगों के इलाज की व्यवस्था के लिए आप लोगों के बीच से एक युवक को वहां नियुक्त किया है।
श्री सिंहदेव ने कहा कि गांव में हर सप्ताह दो बार मोबाइल मेडिकल यूनिट की सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही है। स्वास्थ्य शिविर के माध्यम से अब तक यहां 200 से ज्यादा लोगों का उपचार किया जा चुका है। स्वास्थ्य मंत्री ने ग्रामीणों से चर्चा के दौरान भरोसा दिलाया कि बीमारी के संबंध में जांच रिपोर्ट की जानकारी स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों ने सुपेबेड़ा की बीमारी को आनुवांशिक और जमीन के अन्दर पानी मे फ्लोराइड की मात्रा अधिक होना पाया है। उन्होंने लोगों से फ्लोराइडयुक्त पानी का उपयोग नहीं करने की अपील की। एम्स, रायपुर के डायरेक्टर डॉ. नितिन नागरकर ने किडनी पीड़ितों के इलाज के लिए एम्स में उपलब्ध सुविधाओं की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने लोगों को वहां आकर इलाज कराने कहा। उन्होंने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि एम्स रायपुर के चिकित्सकों का दल समय-समय पर सुपेबेड़ा पहुंचकर पीड़ितों को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराएगी।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास तथा स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंहदेव से चर्चा के दौरान ग्रामीणों ने उन्हें अपनी विभिन्न मांगों से अवगत कराया। ग्रामीणों की मांग पर श्री सिंहदेव ने वहां के उप स्वास्थ्य केन्द्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में उन्नयन और एक नियमित चिकित्सक की नियुक्ति की बात कही। उन्होंने डायलिसिस के लिए एक विशेषज्ञ चिकित्सक की पदस्थापना, तेलनदी का पानी गांव तक पंहुचाने और बेलार नाला व तेलनदी में पुल निर्माण की मांगों को जल्द पूर्ण करने का आश्वासन दिया। उन्होंने गरियाबंद के पुलिस अधीक्षक को सुपेबेड़ा और आसपास के क्षेत्रों में शराब पाउच की बिक्री रोकने के निर्देश दिए। श्री सिंहदेव ने ग्रामीणों की मांग पर सुपेबेड़ा में नया पंचायत भवन बनाने की घोषणा की। गरियाबंद के कलेक्टर श्री श्याम धावड़े, पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर. आहिरे और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर.के. खूंटे सहित पंचायत, ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ्य विभाग के अनेक अधिकारी ग्रामीणों से चर्चा के दौरान सुपेबेड़ा में मौजूद थे।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0504354