Health

बारिश शुरू होते ही Eye Flu की दस्तक, 5 लक्षण दिखें तो हो जाएं सावधान, जानें कैसे फैलती है बीमारी और बचने के उपाय

Eye flu: मौसम बदलते ही आई फ्लू संक्रमण का खतरा बढ़ने लगता है. इसको कंजक्टिवाइटिस भी कहा जाता है. यह बीमारी होने पर आंखों में जलन, दर्द और लालपन जैसी परेशानी होती है. इस बीमारी का मुख्य कारण एलर्जिक रिएक्शन है।

मानसून में तेजी से फैल रहा है आई फ्लू, बचाव के लिए आजमाएं ये 5 घरेलू उपाय बारिश के मौसम में आई फ्लू या आंखों का संक्रमण बहुत तेजी से फैलता है।

जानें इससे बचने के कुछ घरेलू उपाय –

मानसून में कई तरह की बीमारियों और संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। इन्हीं में से एक सबसे बड़ी समस्‍या आंखों का इंफेक्‍शन भी है, जिसे आई फ्लू भी कहते हैं। आई फ्लू को कंजक्‍टीवाइटिस के नाम से भी जाना जाता है। राजधानी दिल्ली समेत देश के कई शहरों में भारी बारिश की वजह से आई फ्लू तेजी से फैल रहा है। इस समस्या में आंखों में लालिमा, जलन, खुजली, दर्द और पानी आना जैसी कई परेशानियां होती हैं। दरअसल, बरसात के मौसम में हवा संक्रमण फैलाने वाले कीटाणु और जीवाणु बढ़ जाते हैं। आंखों का इंफेक्शन आमतौर पर एक आंख से शुरू होता है और दूसरी आंख में फैल जाता है। इसके लक्षण दिखने पर आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। बारिश के मौसम में आई फ्लू से बचाव और छुटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू उपायों का सहारा ले सकते हैं। आज इस लेख में हम आपको आई फ्लू या कंजंक्टिवाइटिस के लिए कुछ आसान घरेलू उपाय बता रहे हैं ।
आलू – आई फ्लू की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप आलू का इस्तेमाल कर सकते हैं। आलू की तासीर ठंडी होती है, इसलिए यह आंखों की जलन को कम करने में मदद करता है। इसमें मौजूद गुण आंखों के संक्रमण से बचाव करने में मददगार साबित हो सकते हैं। इसके लिए आप आलू को पतले-पतले टुकड़ों में काट लें। रात में सोने से पहले आलू के टुकड़ों को अपनी आंखों के ऊपर रखें। लगभग 10-15 मिनट तक लगा कर रखें, फिर हटा दें। इससे आंखों की सूजन और दर्द से भी राहत मिलेगी।

शहद – शहद आंखों से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आंखों के संक्रमण को ठीक करने में प्रभावी साबित हो सकते हैं। इसके लिए आप एक गिलास पानी में 2 चम्मच शहद मिला लें। अब इस पानी से आंखों को धोएं। ऐसा करने से आंखों में दर्द और जलन से भी राहत मिल सकती है।

गुलाब जल – गुलाब जल त्वचा के साथ-साथ आंखों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। आई फ्लू की समस्या से छुटकारा पाने के लिए गुलाब जल का इस्तेमाल बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। दरअसल, इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करते हैं। गुलाब जल आंखों को ठंडक पहुंचाता है और आंखों को साफ भी करता है। इसके लिए गुलाब जल की दो-दो बूंदें आंखों में डालें। ऐसा करने से आंखों में दर्द और जलन से राहत मिलेगी।

तुलसी – तुलसी को इसके औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आंखों के संक्रमण को दूर करने में मदद करते हैं। आंखों में जलन या दर्द की समस्या में भी तुलसी का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आप तुलसी के पत्तों को रातभर के लिए पानी में भिगोकर रख दें। अगली सुबह इस पानी से आंखों को धोएं। नियमित रूप से कुछ दिनों तक ऐसा करने से आपको काफी लाभ होगा।

हल्दी – आई फ्लू से बचाव के लिए हल्दी का इस्तेमाल भी एक प्रभावी घरेलू उपाय साबित हो सकता है। इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-बैक्‍टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो कई प्रकार के संकम्रणों को दूर करने में मदद करते हैं। आंखों के इंफेक्शन से बचाव के लिए आप गुनगुने पानी में एक चुटकी हल्दी पाउडर डालकर मिक्स कर लें। अब इस पानी में कॉटन पैड को भिगोएं और इससे अपनी आंखों को पोंछें। इससे आंखों के आसपास मौजूद गंदगी साफ हो जाएगी और संक्रमण से बचाव में मदद मिलेगी।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0504351