Chhattisgarh COVID-19

संक्रमण के लिहाजा से कलेक्टर लेंगे लॉकडाउन पर फैसला, 6 अगस्त तक बढ़ाया लॉकडाउन …..

कलेक्टरों को राज्य सरकार ने दिया निर्देश …

रायपुर । छत्तीसगढ़ में 6 अगस्त तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। राज्य सरकार ने इस बाबत कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिया गया है। आपको बता दें कि अभी मौजूदा वक्त 28-29 जुलाई तक लॉकडाउन रखा गया था, लेकिन अब उसे बढ़ाकर 6 अगस्त तक कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन 28 जुलाई से बढ़ाकर 6 अगस्त तक किया गया है। इस दौरान एक अगस्त को होने वाली बकरीद और 3 अगस्त को होने वाले रक्षाबंधन के लिए भी कोई छूट नहीं दी गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में सोमवार को उनके निवास कार्यालय में हुई बैठक पर इसको लेकर निर्णय लिया गया है।
कैबिनेट के साथ बैठक के बाद कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि प्रदेश में संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। मरीजों की संख्या बढ़ रही है, जबकि ठीक होने वालों की संख्या कम हुई है। इसे देखते हुए 22 जुलाई से चल रहे लॉकडाउन को 7 दिन और बढ़ाया जा रहा है। हालांकि कृषि मंत्री चौबे ने कहा कि जिला कलेक्टर अपने स्तर पर इसे बढ़ाने, नहीं बढ़ाने और छूट देने पर फैसला कर सकते हैं। छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन बढ़ेगा या नहीं, इसको लेकर कुछ देर बाद फैसला आ सकता है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में सोमवार को उनके निवास कार्यालय पर बैठक शुरू हो गई है।
अस्पताल में बेड की आवश्यकता को लेकर समीक्षा
कोरोना की रोकथाम को लेकर भी जिला कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। वह अपने स्तर पर मामलों को लेकर निर्णय लेंगे। जहां जरूरत नहीं होगी, लॉकडाउन नहीं भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि रायपुर हॉट स्पॉट बना हुआ है। अस्पतालों में बेड की आवश्यकता को लेकर भी समीक्षा की गई है। इस पर उचित कार्यवाही की जाएगी।
निगम, मंडल और आयोग के लिए कई नाम फाइनल.. कृषि मंत्री चौबे ने बताया कि छत्तीसगढ़ में विभिन्न मंडल, निगम और आयोग का गठन शेष है। कई जगहों पर अध्यक्षों की नियुक्तियां कर दी गई हैं। जहां पर सदस्य और अन्य पद खाली रह गए हैं, वहां भी साथियों को एडजस्ट किया जाएगा। कई के नाम फाइनल कर दिए गए हैं। जल्द ही नामों की सूची जारी की जाएगी।
किसानों को जलाशयों से पानी –
कैबिनेट मंत्री चौबे ने कहा कि जुलाई में अनुपात से बहुत कम वर्षा हुई है। इसके चलते किसानों के सामने संकट आ गया है। कई इलाकों में किसानों के सामने खेती के लिए पानी की समस्या है। इस देखते हुए जलाशयों से इस बार सिंचाई के लिए पानी दिया जा सकता है। इसको एमआरपी पर दिया जाएगा। इस संबंध में निर्देश दिया गया है।
रायपुर सहित 15 जिलों में है अभी लॉकडाउन फिलहाल रायपुर में 28 जुलाई तक लॉकडाउन किया गया था। इसके साथ ही बिलासपुर, दुर्ग, रायगढ़ के सारंगढ़, दंतेवाड़ा समेत राज्य के 15 जिलों में लॉकडाउन है। कुछ जिलों में दुकानें खुली रखने की छूट नियत समय तक दी गई है। प्रशासन की टीम लगातार निगरानी कर रही और नियमों के उल्लंघन पर लोगों से जुर्माना वसूल रही है।
रायपुर में जीएसटी कार्यालय बंद किया गया
जीएसटी कार्यालय रायपुर सर्किल-4 में 20 जुलाई को पॉजिटिव मिला था। संक्रमित मिला कर्मचारी करीब एक सप्ताह से होम क्वारैंटाइन में थे और दफ्तर नहीं आ रहे थे। वहीं संपर्क में आए 7 व्यक्तियों का टेस्ट कराया गया है। इसके बाद विभिन्न सर्किल कार्यालयों में अन्य 5 संक्रमित पाए गए। इसके बाद दफ्तर को बंद कर दिया गया है।
रायपुर में 3 दिन में 600 के करीब मरीज
रायपुर में ही 3 दिनों के अंदर 600 के करीब मरीज आ चुके हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण का हॉट स्पॉट बन चुके रायपुर में मरीजों की संख्या 2187 पहुंच गई है। इसमें से 19 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1252 एक्टिव केस हैं। अस्पतालों में बेड लगभग फुल हो चुके हैं। इसके बाद प्राइवेट अस्पताल एमएमआई, नया रायपुर स्थित बालको को भी उपचार की अनुमति दी गई है। वहीं ईएसआईसी को निजी रूप से सौंपा गया है। प्रदेश में संक्रमण का आंकड़ा साढ़े सात हजार से ज्यादा … छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसके साथ मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। प्रदेश में संक्रमित मरीज 7613 हो चुके हैं। इनमें से 43 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि एक्टिव केस 2626 पहुंच गए हैं। हालांकि 4944 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी भी दे दी गई है।

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0184269