Chhattisgarh COVID-19

Congress has not found any workers in Chhattisgarh who are importing from UP and Bihar: Dr. Mamta Sahu

Raipur. Dr. Mamta Sahu said that Congress did not find any workers in Chhattisgarh who are importing from UP and Bihar. Kalpana Singh is from UP Rae Bareli, she also voted in UP in 2019 and has been made a member of the Social Welfare Board. The government is doing something else, there is something else, people have been kept in the illusion that Chhattisgarhi is the government of O, but it is not like that all outsiders have been given a chance, few Chhattisgarh have been given the corporation and commission in the government of Chhattisgarh. The appointment of Kalpana Singh, a newly appointed member in the Social Welfare Department, has now been read into danger as a person named Yashasvi Tiwari against her husband has handed over a shocking letter to the opposition leader Dharam Lal Kaushik, alleging that she has given the Women Child Development Minister Smt. Anila has written a letter to the wolf and demanded to take necessary action. He has sent all the documents and said that the complainant Yashswi Tiwari has said that Prashant Singh, a history sheeter, husband of Kalpana Singh, a member of the Social Welfare Board appointed by the Chhattisgarh Government, and a fifty thousand rupees Prize up Mr. Kaushik has said in the letter that before appointing the husband of such member who is connected with crime, it should be scrutinized with thorough scrutiny so that the quiet state is not disturbed. As a member of the Welfare Board on 16 July 2020 this month.

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को कोई कार्यकर्ता नहीं मिला जो यूपी और बिहार से आयात कर रहे हैं : डॉ ममता साहू

रायपुर। डॉ ममता साहू ने कहा की छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को कोई कार्यकर्ता नहीं मिला जो यूपी और बिहार से आयात कर रहे हैं ।कल्पना सिंह यूपी रायबरेली की है, उन्होंने यूपी में मतदान भी किया 2019 में और जिसे समाज कल्याण बोर्ड का सदस्य बनाया गया है यह सरकार करती कुछ और है कहती कुछ और है लोगों को भ्रम में रखा है कि छत्तीसगढ़ी ओ की सरकार है परंतु ऐसा कुछ नहीं है सभी बाहरी लोगों को मौका दिया गया है गिने-चुने छत्तीसगढ़िया को ही निगम और आयोग में दिया गया है छग शासन के द्वारा समाज कल्याण विभाग में नव नियुक्त सदस्य कल्पना सिंह की नियुक्ति अब खतरे में पढ़ गई है क्योंकि उसके पति के विरुद्ध यशस्वी तिवारी नामक व्यक्ति ने आरोप लगाते हुए चौकाने वाला पत्र प्रतिपक्ष नेता धरम लाल कौशिक को सौंपी है जिसे लेकर उन्होंने महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेड़िया को पत्र लिख कर आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की है उन्होंने समस्त दस्तावेज प्रेषित कर बताया कि शिकायत कर्ता यशस्वी तिवारी ने कहा है कि छग शासन द्वारा समाज कल्याण बोर्ड में नियुक्त सदस्य कल्पना सिंह के पति प्रशांत सिंह हिस्ट्री शीटर तथा पचास हजार रुपये का इनामी अपराधी है श्री कौशिक ने पत्र में कहा कि ऐसे सदस्य के पति जो अपराध से जुड़े है उन्हें नियुक्त करने के पूर्व इसकी पूरी तरह सूक्ष्मता से छानबीन कर जांच किया जाए ताकि शांत प्रदेश अशांत न हो उल्लेखनीय है कि कल्पना सिंह की नियुक्ति छग शासन ने समाज कल्याण बोर्ड में सदस्य के रूप में इसी माह 16 जुलाई 2020 को की है।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Follow us on facebook

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0503978