Chhattisgarh COVID-19

गुणवत्ताविहीन निर्माण कार्य कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा: ताम्रध्वज साहू

मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत बेरोजगार इंजीनियरों को दिया जाएगा काम

धमतरी 30 नवंबर 2020/ प्रदेश के लोक निर्माण, गृह, जेल, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व तथा पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज दोपहर धमतरी जिले के प्रवास के दौरान संक्षिप्त विभागीय बैठक ली। लोक निर्माण विभाग के निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि सड़क एवं भवनादि निर्माण कार्यों में अनिवार्य रूप से गुणवत्ता लाएं। यदि कोई कार्य गुणवत्ताविहीन पाया जाता है तो विरूद्ध उच्चस्तरीय विभागीय जांच कराई जाएगी और इसमें अगर शिकायत सही पाई जाती है तो संबंधित अधिकारी के अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान लोक निर्माण मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत छोटी लम्बाई के सड़कों का निर्माण कार्य किया जाएगा, जिसमें होने वाली ई-टेंडरिंग में बेरोजगार इंजीनियरों को प्राथमिकता दी जाएगी।
स्थानीय रत्नाबांधा रोड स्थित पीडब्ल्यूडी रेस्टहाउस में आयोजित बैठक में केबिनेट मंत्री श्री साहू ने जिले में चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी लेते हुए कहा कि जिले में जितने भी निर्माण कार्य चल रहे हैं, उनका स्थल निरीक्षण अधिकारी स्वयं करें और वहां की जमीनी हकीकत से अवगत होवें। अगर निर्माण कार्य में किसी प्रकार की अनियमितता पाई जाती है तो दोषी लोगों के विरूद्ध विभागीय जांच की कार्रवाई की जाएगी। मंत्री साहू ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत कम दूरी वाली नई सड़कें जिनकी लागत 20 लाख रूपए तक की हैं, के निर्माण की स्वीकृति जिले में मिली हुई है, ऐसे कार्यों की टेंडर प्रक्रिया में बेरोजगार इंजीनियरों को अवसर प्रदान किया जाए। इसी तरह सेतु निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि पुल निर्माण के कार्यों का प्राक्कलन तैयार कर भेजा गया है, उनमें कतिपय संशोधन की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि पुल का स्तर या तो अधिक है या अधिक नीचे। ऐसे कामों की पुनः समीक्षा करने अधिकारी स्थल निरीक्षण करें और सड़क के लेवल के अनुसार फिर से एस्टीमेट तैयार कर भेजें। इस दौरान कार्यपालन अभियंता ने रत्नाबांधा रेस्ट हाउस के पुराने भवन के रिनोवेशन की मांग की, जिस पर मंत्री साहू ने कहा कि फिलहाल नए भवन की स्वीकृति नहीं दी जाएगी, किन्तु एक अतिरिक्त कक्ष और बैठक कक्ष निर्माण के लिए प्रस्ताव तैयार कर भेजें। इसके अलावा जिले में जितने पुराने रेस्ट हाउस हैं, उनके नवीनीकरण के लिए भी प्रस्ताव भेजने के निर्देश लोक निर्माण मंत्री ने दिए। इस अवसर पर विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।
इसके पहले, गृहमंत्री साहू ने पुलिस अधिकारियों की संक्षिप्त समीक्षा करते हुए जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के सतत् निगरानी करने के निर्देश दिए। साथ ही जुंआ, सट्टा, अवैध शराब जैसी सामाजिक बुराइयों पर नियंत्रण के लिए कारगर रणनीति तैयार कर सख्ती से कार्रवाई करने तथा अपराधों पर नियंत्रण के लिए कम्युनिटी पुलिसिंग जैसे सकारात्मक कार्यों को जारी रखने के लिए निर्देशित किया। बैठक में पुलिस अधीक्षक बी.पी. राजभानू, उप पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर, अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल सहित विभागीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Follow us on facebook

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0503995