International

शेख़ हसीना के बांग्लादेश से क्या सीख सकता है भारत?

बांग्लादेशी प्रधानमंत्री शेख़ हसीना गुरुवार को चार दिवसीय दौरे पर भारत पहुंची थीं. ऐसा समझा जा रहा था कि इस दौरान दोनों देशों के बीच कोई बड़ी घोषणा हो सकती है.
कल शनिवार को द्विपक्षीय मुलाक़ात में दोनों देशों के बीच सुरक्षा, व्यापार समेत कई क्षेत्रों को लेकर सात समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. साथ ही बांग्लादेश से एलपीजी गैस आयात समेत तीन परियोजनाओं की शुरुआत भी हुई. इस एलपीजी का इस्तेमाल पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में किया जाएगा.
इस दौरान भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्हें बेहद ख़ुशी है कि पिछले एक साल में उन्होंने बांग्लादेश के साथ वीडियो लिंक के ज़रिए नौ परियोजनाएं पेश की हैं.
उन्होंने ख़ुशी जताई की इससे दोनों देशों के नागरिकों को लाभ होगा और दोनों देशों के नागरिकों का विकास ही भारत-बांग्लादेश की साझेदारी का आधार है.
इस दौरान तीस्ता नदी जल बंटवारे और रोहिंग्या-एनआरसी जैसे मुद्दों पर कोई चर्चा देखने को नहीं मिली जबकि यह समझा जा रहा था कि तीस्ता नदी का मुद्दा फिर उठ सकता है.

Follow us on facebook

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0504055