National

मायावती आराम करें, बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के ‘मिशन’ को पूरा करने की जिम्मेदारी अब आरपीआई निभाएगी: आठवले

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी को करारा झटका लगा है। पहली बार बीएसपी महज 12 फीसदी वोट शेयर पर ही सिमट गई और सिर्फ एक सीट पर ही जीत मिल पाई है। इसी पर तंज कसते हुए दलित नेता और रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया के चीफ रामदास आठवले ने मायावती पर तंज कसा है। केंद्रीय मंत्री ने मायावती पर तंज कसते हुए कहा कि मायावती को आराम करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि बीएसपी चीफ मायावती को अब आराम करना चाहिए। आठवले ने कहा कि बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के ‘मिशन’ को पूरा करने की जिम्मेदारी अब आरपीआई निभाएगी।
मंगलवार को आठवले ने एक वक्तव्य जारी करते हुए कहा कि उनकी पार्टी पूरे देश में बाबा साहब के सपनों को साकार करेगी और उत्तर प्रदेश में बसपा के सबसे मजबूत विकल्प के तौर पर उभरेगी। केंद्रीय मंत्री ने हिजाब के मसले पर कर्नाटक उच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत किया और कहा कि शैक्षणिक संस्थानों में हिजाब जैसे ड्रेस का कोई महत्व नहीं है और शैक्षणिक संस्थान में स्कूल ड्रेस को ही बढ़ावा दिया जाना चाहिए। इस बीच उन्होंने ‘द कश्मीर फाइल्स’ मूवी की भी तारीफ की। आठवले ने कहा कि इस तरह की फिल्में देश और समाज को उसके इतिहास से रूबरू कराने का काम करती हैं और वक्त मिलने पर वह भी इस फिल्म को जरूर देखेंगे।
राज्यसभा सांसद रामदास आठवले की सक्रियता अब तक महाराष्ट्र में ही रही है, लेकिन अब उन्होंने यूपी की राजनीति में भी दखल देने के संकेत दिए हैं। अकसर वह खुद को बाबासाहेब आंबेडकर की राजनीति का उत्तराधिकारी बताते रहे हैं। गौरतलब है कि मायावती ने हार के लिए मुस्लिम वोटों के सपा के पाले में जाने और उसके जवाब में हिंदू वोटों के ध्रुवीकरण को जिम्मेदार ठहराया था। यही नहीं मायावती ने यह भी माना था कि उनकी अपनी बिरादरी जाटव समाज के अलावा अन्य दलितों का वोट भी इस बार बीएसपी से छिटका है।

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0365339