Chhattisgarh COVID-19

नोटिस जारी निलंबित जनक प्रसाद पाठक IAS को , गिरफ़्तारी के लिए वक़्त जरुर पर निश्चित होगी यह तय

जांजगीर/ दुष्कर्म मामले में फंसे 2007 बैच के जनक प्रसाद पाठक IAS को पूछताछ के लिए विवेचना अधिकारी के समक्ष उपस्थित होने के लिए नोटिस जारी कर दिया है। पुलिस ने स्व सहायता समूह की महिलाओं का बयान भी शनिवार को लिया है। मामले की विवेचना अधिकारी SDOP पद्मश्री तंवर ने मामले की जानकारी देते हुए गिरफ़्तारी के संकेत दिए है। लेकिन, कब होगी यह अभी स्पष्ट नहीं किया है। पर हाँ जांच की कार्रवाई पर गिरफ़्तारी को निर्भर बताया है। SDOP तंवर ने कहा है कि कलेक्टर परिसर से सभी साक्ष्य को जप्त कर लिए गए हैं। सीसीटीवी फ़ुटेज में भी पीड़िता जिस तारीख़ को दुष्कर्म होने की बात कह रही है, उसकी स्पष्ट रूप से उपस्थिति दिख रही हैं। इसके अलावा SDOP ने बताया है कि अपराध दर्ज करने के बाद पीड़िता का 164 कथन हो चुका है। पीड़िता का मेडिकल परीक्षण भी कराया जा चुका है। साक्ष्य के रूप में जो पीड़िता ने हमें उपलब्ध कराए है उसकी पुष्टि के लिए सम्बंधित मोबाइल की जांच के लिए हमने मोबाइल की मांग की है, पर पीड़िता ने अभी हमें उपलब्ध नहीं कराया है।

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0184269