Chhattisgarh COVID-19 Durg

दिग्विजय ने भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा कि भाजपा के पास काली कमाई का बहुत पैसा है

मंडियों में जानवर बिकते हैं, वैसे ही फॉर्महाउस में विधायक बिकते हैं – दिग्विजय सिंह

दुर्ग। राज्यसभा सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर भाजपा पर तीखा हमला बोला है। दिग्विजय ने भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा
कि भाजपा के पास काली कमाई का बहुत पैसा है, इसलिए विधायको की खरीद फरोख्त करते हैं। पहले जिस तरह मंडियों में जानवर बिकते रहे हैं, वैसे ही
फॉर्महाउस और होटलों में विधायक बिकते हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री ने ये तीखे बोल दुर्ग में मीडिया से बात करते हुए बोला। दिग्विजय सिंह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री मोतीलाल वोरा के निधन के पश्चात उनके परिवार से मुलाकात करने विधायक अरुण वोरा के पद्मनाभपुर स्थित निवास पहुंचे थे। यहां उन्होंने दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि अर्पित की और वोरा परिवार के सदस्यों को ढांढस बांधते हुए उन्होंने मोतीलाल वोरा के कार्यों को याद किया।
उन्होंने कहा कि हर पिता अपने बच्चों के लिए कोई न कोई विरासत छोड़ कर जाता है। वोरा जी ने अपने राजनीतिक जीवन मे मित्र बहुत बनाये हैं उनका कोई दुश्मन नहीं है और इसी विरासत को वोरा परिवार को आगे बढ़ाना चाहिए।
राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा कि भाजपा के पास काली कमाई का बहुत पैसा है, इसलिए विधायकों की खरीद फरोख्त करते हैं। पहले जिस तरह से मंडियों में जानवर बिकते रहे हैं वैसे ही
फॉर्महाउस और होटलों में विधायक बिकते हैं।
गांधी के हिन्द स्वराज की कल्पना को भूपेश ने किया साकार भूपेश सरकार के 2 वर्ष के कार्यकाल पूर्ण होने पर उन्होंने प्रदेश सरकार को बधाई देते हुए कहा कि महात्मा गांधी के हिन्द स्वराज की कल्पना को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने साकार किया है। यही वजह है कि आज किसान और
मजदूर खुश हैं। पूरे देश मे मंदी आने के बाद भी छत्तीसगढ़ इससे अछूता रहा और यहां की जीडीपी बढ़ी है, ये यहां की सरकार के कार्य का ही परिणाम है।
भाजपा से नीतीश कुमार भी किनारा करेंगे कृषि बिल पर उन्होंने केंद्र सरकार को कोसते हुए कहा कि जब पूरे देश मे इस बिल का विरोध है तो मोदी जी इस कानून को वापस क्यों नही ले लेते। आखिर इस कानून में ऐसा क्या है जिसके लिए केंद्र सरकार किसानों की मांगों के सामने झुकना नहीं चाहती। एनडीए से अलग होते दलों के बारे में उन्होंने कहा कि भाजपा का चाल चरित्र करीब से जान लेने के बाद समर्थन करने वाले दल उनसे दूरी बना लेते हैं। जिस तरह शिवसेना और अकाली दल भाजपा से अलग हुए
हैं भविष्य में नीतीश कुमार जी भी उनके साथ किनारा कर लेंगे।

Follow us on facebook

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0493236