Chhattisgarh COVID-19

उठाईगिरी करने वाली महिला सक्रिय, मुसाफिरों को बनाती है शिकार

रायपुर/ राजधानी रायपुर में यदि आप पैसा लेकर ऑटो से सफर कर रहे है, तो सचेत रहें, क्योंकि राजधानी में ऑटो की सवारियों से पैसा ठगने वाला गिरोह सक्रिय हो गया है। गिरोह में महिलाएं है, जो बातों के झांसे में मुसाफिरों को फंसाते हैं और उनके पैसे चुराकर फरार हो जाते हैं। ऐसे ही एक गिरोह के खिलाफ सिविल लाइन थाने में एफआईआर कराई गई है। सिविल लाइन थाना पुलिस के अनुसार आरोपी महिलाओं की शिकायत खमतराई निवासी मीरा सेन गुप्ता ने की है। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वो 23 नवंबर को अपने पति के साथ आंखों का ऑपरेशन कराने के लिए लालपुर स्थित अस्पताल के लिए निकली थी। खमतराई से घड़ी चौक पहुंची और घड़ी चौक से लालपुर के लिए ऑटो लिया। घड़ी चौक से लालपुर जाने के दौरान ऑटो में तीन और महिलाएं बैठी थी। इन महिलाओं ने पीड़ित दंपती को झांसे में लिया और बैग में रखा पर्स पार कर दिया। पीड़िता के मुताबिक पर्स में 25 हजार रुपए पड़े हुए थे।
ओड़िया बोल रही थी महिलाएं – पीडि़त परिवार के अनुसार उठाईगिरी करने वाली महिलाएं ओड़िया भाषा में बातचीत कर रही थी। पीडि़ता के मुताबिक एक महिला मोटी काली और गोल चेहरे की है, जो स्कार्फ लगायी थी और सफेद रंग की साड़ी पहनी थी। दूसरी महिला जिसकी कद काठी सामान्य, रंग सांवली लाल पीला रंग का सलवार सूट पहनी थी, वहीं तीसरी महिला हल्की मोटी रंग में सांवली और साड़ी पहनी थी।
पूर्व में भी हो चुकी वारदात – इस पैटर्न पर ठगी का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी ऑटो में उठाईगिरी घटना होने की दर्जनों वारदात हो चुकी है। पूर्व में रायपुर पुलिस ने अभियान चलाकर भिलाई के ऑटो चालकों को पकड़ा था, इसके बाद वारदातों पर नियंत्रण लगा था। अभी रायपुर पुलिस के अधिकारी महादेव घाट में उठाईगिरी करने वाली महिला आरोपियों का पता नहीं लगा पाए है।
सिविल लाइन निरीक्षक आरके मिश्रा ने कहा, आरोपियों की शिकायत जिस महिला ने की है, उसकी दोनों आंख में परेशानी है। महिला के पति भी अधेड़ है, इसलिए आरोपियों की शिनाख्त करने में परेशानी हो रही है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश की जा रही है। जल्द आरोपियों को पकड़ लेंगे।

Follow us on facebook

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0493414