Chhattisgarh COVID-19

नागरिकों की समस्या निपटाने वार्डों में लगेंगे वृहत शिविर

कलेक्टर ने नगरीय निकाय के अधिकारियों को दिये निर्देश, कहा शेड्यूल बनाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए समस्याओं को करें हल जिन उद्योगों ने जल कर नहीं दिया, उन पर कुर्की की करें कार्रवाई

दुर्ग , कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने नागरिक समस्याओं को निपटाने के लिए वार्डों में वृहत शिविर लगाने के निर्देश नगरीय निकाय के अधिकारियों को दिये हैं। उन्होंने कहा कि शिविरों में राजस्व प्रकणरों के साथ ही अन्य सभी प्रकार की नागरिक समस्याओं का निपटारा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आयुक्त स्वयं इनकी मानिटरिंग करेंगे। ऐसे शिविर बड़े हाल में आयोजित किये जाएंगे ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करते हुए लोगों की समस्या हल की जा सके। उन्होंने नगरीय निकायों में सुबह और शाम सफाई की ड्राइव पर विशेष तौर पर नजर रखने अधिकारियों को निर्देशित किया। कलेक्टर ने कहा कि नगरीय निकायों में जो गौठान चल रहे हैं। उन पर भी प्रमुखता से मानिटरिंग करें। यहां मत्स्यपालन सहित अन्य रोजगार मूलक गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाए ताकि यह आजीविकामूलक गतिविधियों के प्रमुख केंद्र के रूप में स्थापित हो सकें। बैठक में नगर निगम कमिश्नर श्री ऋतुराज रघुवंशी, डीएफओ श्री केआर बढ़ाई, जिला पंचायत सीईओ श्री सच्चिदानंद आलोक, अपर कलेक्टर एवं रिसाली कमिश्नर श्री प्रकाश सर्वे एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे। आईसीई प्लान पर की चर्चा, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने लोगों को प्रेरित करने छिड़ेगी व्यापक मुहिम- कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण को थामने के लिए यह बेहद आवश्यक है कि लोग पूरी तरह सजग रहें। विशेषकर त्योहारों के समय बाजारों में और सार्वजनिक स्थलों में विशेष रूप से इसका एहितायत बरतना होगा। इसके लिए व्यापारिक संगठनों से भी आग्रह करें। नागरिक समुदाय का भी सहयोग लें ताकि सबके सहयोग से कोरोना जागरूकता अभियान को मुकम्मल किया जा सके। उन्होंने कहा कि इसके लिए जिला प्रशासन ने नन्ही दुर्गा को शुभंकर के रूप में चुना है। नन्ही दुर्गा का शुभंकर लोगों को प्रेरित करेगा कि मास्क पहनें, हाथ धोयें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। इस आईसीई प्लान से संबंधित प्रचार-प्रसार करें।
बंद पड़े प्लांट एवं अनुपयोगी जमीनों वाले उद्योगों के सर्वे के संबंध में करें मानिटरिंग- कलेक्टर ने कहा कि उद्योग विभाग की बैठक में निर्देशित किया था कि उन उद्योगों को चिन्हांकित किया जाए जो बंद पड़े हैं अथवा जो लीज की जमीन का उपयोग नहीं कर रहे हैं। इस कार्य को शीघ्रता से पूरा कर लें। उन्होंने यह भी कहा कि जो उद्योग समूह जल कर नहीं दे रहे हैं वहां कुर्की करने की कार्रवाई की जाए।
नहरों के नेटवर्क से गाद निकलेगी, होगा जीर्णोद्धार- कलेक्टर ने कहा कि जिन नहरों में गाद जम गई है। उनका प्रस्ताव सिंचाई विभाग दे। मनरेगा के माध्यम से इस संबंध में कार्य किया जाएगा। कैनल नेटवर्क को मजबूत बनाने से किसान पानी की हर बूंद का उपयोग कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि जल्द ही इन कार्यों का प्रस्ताव दें ताकि इन पर काम आरंभ किया जा सके। उन्होंने कहा कि जो भू-अर्जन के प्रकरण हैं। उन पर भी काम तेजी से करें। अवैध प्लाटिंग पर कार्रवाई जारी रखें।
सुपेला अस्पताल की व्यवस्था पर नजर रखें- कलेक्टर ने कहा कि जीवनदीप समिति सुपेला अस्पताल को बेहतर करने की दिशा में नवाचार करें। यहां दी जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं पर नजर रखें और सबसे अच्छा इलाज देने की कोशिश हो। उन्होंने कहा कि अन्य अस्पतालों की जीवनदीप समितियां भी नवाचार करते हुए अपने अस्पतालों में व्यवस्था को मजबूती दें।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Follow us on facebook

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0503664