Chhattisgarh COVID-19 Raipur CG

अनसुईया ने स्वीकार किया सोनमणि के आग्रह को फिर कुछ किया ऐसा काम…..

रायपुर । छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के लिए हर्ष की बात हैं कि उनके राज्य में सोनमणि बोरा जैसे झुलसे हुए अफसर कार्यरत हैं जो मानवीय मूल्यों को जीवित रखते हुए कार्य करते है । भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अफसर सोनमणि बोरा राज्य सरकार के श्रम विभाग के सचिव के साथ ही राज्यपाल अनसुईया उईके के प्रमुख सचिव के पद सेवाएं दे रहे हैं।
प्रदेश सरकार और राज्य के वरिष्ठ अफसरों के लिए गर्व की बात हैं कि राज्यपाल के प्रमुख सचिव सोनमणि बोरा ने राज्यपाल अनसुईया उईके से रायपुर के कोटा निवासी एक मासूम बच्ची मानवी के गर्म पानी से जलने की खबर पाकर उन्हें रायपुर के श्री नारायणा हास्पिटल में न केवल ईलाज कराने का दिशा निर्देश दिए बल्कि राज्यपाल उईके से आग्रह किया कि मानवी के ईलाज के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करें । जिस पर राज्यपाल ने बिना देरी किए सोनमणि के आग्रह को स्वीकार करते हुए तत्काल मानवी के ईलाज के लिए उनके पिता के खाते पर 80 हजार रुपये जमा कराएं ।इस कार्य के लिए सोनमणि बोरा का चारों खूब प्रशंसा हो रही हैं ।
वहीं मज़हर इक़बाल कांग्रेस नेता ने उक्त कार्य के लिए सोनमणि बोरा के साथ ही राज्यपाल अनसुईया उईके को हृदय से धन्यवाद देते हुए कहा हैं कि छत्तीसगढ़ में आज बेहतर अफसरों की टीम हैं जो छत्तीसगढ़ को बेहतर बनाने में लगे हुए हैं । वहीं सोनमणि बोरा से हम सबको सीख लेते हुए समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी को पूरी तरह से निभाना चाहिए । बहरहाल आज सोनमणि बोरा के एक आग्रह को अनसुईया उईके ने सहज रुप से स्वीकार कर राज्यपाल उईके ने भी सब का दिल जीत लिया हैं ।

Follow us on facebook

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0503981