Chhattisgarh

लखराम ग्राम पंचायत के तत्कालीन निलंबित सचिव को बर्खास्त एवं FIR दर्ज करने की तैयारी

वित्तीय अनियमितता के कारण किया गया था निलंबित

बिलासपुर 18 जनवरी 2022

जिले के बिल्हा विकासखण्ड के ग्राम पंचायत लखराम के तत्कालीन सचिव श्री अनूप यादव को वित्तीय मामलों मे अनियमितता पाए जाने के कारण मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बिलासपुर द्वारा निलंबित कर दिया गया था।
जिला पंचायत के सूत्रों ने बताया कि ग्राम पंचायत लखराम के तत्कालीन सचिव श्री अनूप यादव के विरुद्ध वित्तीय अनियमितता की शिकायत की गयी थी।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने छह सदस्यीय टीम गठित कर जांच के निर्देश दिए थे। जांच दल द्वारा जाँच की कार्यवाही पूर्ण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। जाँच रिपोर्ट में ग्राम पंचायत लखराम के तत्कालीन सचिव एवं वर्तमान में ग्राम पंचायत दर्रीघाट के सचिव श्री अनूप यादव वित्तीय अनियमितता के दोषी पाए गए । जाँच रिपोर्ट में पाया गया कि उन्होंने कचरा शेड निर्माण के लिए तीन लाख रुपये खाते से निकाले थे लेकिन स्थल निरीक्षण में कोई कार्य नहीं हुआ था। जांच में पाया गया कि सचिव अनूप यादव ने बिजली बिल के नाम पर 13 लाख की राशि का आहरण कर उसका दुरुपयोग किया। इसी प्रकार क्वारन्टीन सेंटर की समुचित व्यवस्था करने के लिए सरपंच और सचिव द्वारा 55 हजार रुपये का नकद आहरण किया गया और जांच में पाया गया कि आहरित राशि रोकण पंजी में दर्ज नही की गयी थी। अनुप यादव को छत्तीसगढ़ पंचायत सेवा आचरण नियम 1998 का उल्लंघन करने के कारण निलंबित किया गया था, जिनके खिलाफ अब एफआईआर दर्ज करने एवं सेवा से बर्खास्त करने की तैयारी चल रही है।
इस पूरे प्रकरण पर भाजपाई नेताओं की अहम भूमिका होने की बात कहीं जा रही है। जिला पंचायत के एक अधिकारी ने नाम न छापने के शर्त पर बताया कि अनुप कुमार यादव के खिलाफ जिला पंचायत सीईओ द्वारा कभी भी बर्खास्त करने के साथ ही एफआईआर दर्ज करने का आदेश जारी किया जा सकता है।

About the author

Mazhar Iqbal

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0350346