National

विभागीय अधिकारी कार्य में गति लाकर समय सीमा में लक्ष्य हासिल करें- प्रभारी मंत्री

जांजगीर-चांपा हाई-वे का मरम्मत कार्य जनवरी में शुरू होगा

समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री ने जिले में विभागीय कार्यों की प्रगति संतोष जाहिर किया

जांजगीर-चांपा – 23 दिसंबर, 2021/ राज्य के राजस्व आपदा प्रबंधन मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने जिले में विभागीय कार्यों की प्रगति पर अपना संतोष जाहिर करते हुए कहा कि ऐसे विभाग जिनके कार्य लंबित है, वे अपने कार्य में तेजी लाएं और नियत समय सीमा में अपना लक्ष्य हासिल करें।
जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक में भू- अर्जन के लंबित प्रकरणों की जानकारी लेते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि ऐसे प्रकरण जिनमें भूस्वामी मुआवजे के लिए पात्र हैं उन्हें मुआवजे का शीघ्र भुगतान किया जाए। लोक निर्माण विभाग के कार्याे की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने सक्ती-बरपाली-बासिनपाठ-कोरबा मार्ग में बरपाली बासिनपाठ के बीच भूमि का लेवल ऊपर कर सड़क निर्माण कार्य करने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री ने कहा कि कोरोना काल में विकास कार्यों की गति धीमी हो गई थी। किंतु जिले के विभागीय अधिकारियों द्वारा मेहनत कर कार्य में उत्साहजनक प्रगति लायी है। उन्होंने चांपा -बिर्रा और जांजगीर-चांपा के खोखसा आरओबी निर्माण की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने चांपा, बिर्रा और खोकसा आरओबी का निर्माण मार्च- अप्रैल माह तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री ने बताया कि जांजगीर जिले में अनेक प्रमुख मार्गों की स्वीकृति दी गई है। दूसरे फेस में छूटे हुए मार्गाे की भी स्वीकृति दी जाएगी। इससे जिले में आवागमन में सुविधा होगी।
अंग्रेजी माध्यम आत्मानंद स्कूलों के संचालन की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि इन स्कूलों की मांग प्रदेश में बढ़ती जा रही है। उन्होंने जांजगीर-चांपा जिले में संचालित 10 आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के संचालन की जानकारी लेते हुए इन स्कूलों में पूर्व में संचालित हिंदी माध्यम स्कूलों का संचालन भी करने के निर्देश दिए। उन्होंने हाउसिंग बोर्ड के कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्मित कालोनियों में आधारभूत संरचनाएं विकसित करने के निर्देश दिए।
बैठक में स्वास्थ्य, कृषि, नरवा, घुरवा योजना, पशुपालन, मत्स्य, उद्यानिकी, रेशम, सहकारिता, खाद्य, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, जल संसाधन, पी एम जी एस वाई, सीएमजीएसवाई, राजस्व, लोक सेवा गारंटी, योजना एवं सांख्यिकी, शिक्षा, आदिवासी विकास, ख्निज, जिला पंजीयक, डीएमएफ, नगर ग्राम निवेश, श्रम, आयुर्वेद, अबकारी, अंत्यावसायी, परिवहन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी आदि विभागों की समीक्षा की गई।
कलेक्टर जितेनद्र कुमार शुक्ला ने सभी एसडीएम, तहसीलदारों को निर्देशित कर कहा है कि वे अतिक्रमण शासकीय भूमि में खेती न हो इसका ध्यान रखें तथा अतिक्रमण हटाने की शीघ्र कार्रवाई करें। उन्होंने जिले में कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए किए जा रहे प्रशासनिक कार्यों की जानकारी दी। कलेक्टर ने आज की समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री द्वारा विभागीय कार्याे के लिए दिए गए मार्गदर्शन के लिए उनका आभार जताया।
बैठक में राज्य शांकभरी बोर्ड के अध्यक्ष राम कुमार पटेल, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती यनीता चंद्रा, उपाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह, पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर, अपर कलेक्टर लीना कोसम, सभी एसडीएम और जिला स्तरीय विभागीय अधिकारी, जिला कांग्रेस कमेटी कोरबा ग्रामीण अध्यक्ष सुरेंद्र जायसवाल उपस्थित थे।

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0388585