COVID-19 National New Dehli

Arnab got information about Balakot air strike through Prime Minister: Rahul

Karur / Former Congress president Rahul Gandhi on Monday alleged that Prime Minister Narendra Modi (Narendra Modi) is the only person through whom the information before the Balakot air strike was edited by the editor-in-chief of Republic TV. Arnab Goswami. However, he did not provide any evidence regarding his claim. At present, no response has been received from the Prime Minister’s Office as well. During a roadshow here, the Congress leader said that only five people, including the Prime Minister and the Defense Minister, were aware of any military action beforehand.
He quoted Arnab’s alleged WhatsApp conversation as saying, “A few days ago information came out that a journalist already knew about the air strike in Balakot. Three days before the Indian Air Force was bombed in Pakistan, a journalist was told what was going to happen. ” Rahul Gandhi said that this meant that the lives of our Air Force pilots were put in danger. According to him, only the Prime Minister, Defense Minister, National Security Advisor, Home Minister and the Chief of the Air Force were aware of the Balakot air strike.
“No one other than these people knew about this before the Balakot air strike,” he alleged. Now I want to understand why it did not start an investigation as to who gave this information to a journalist before Balakot’s action. The reason is that none of these five people told this person. None of them betrayed our Air Force. ” The former Congress president claimed, “If the Prime Minister did not do it then why is he not ordering an inquiry.” Think about it. If the Prime Minister is not ordering an inquiry, then there is only one reason that he himself is the person through whom this information reached the journalist. ”
He also said that if it is not so, the Prime Minister should investigate and tell who gave the information. Rahul Gandhi once again targeted Prime Minister Modi over the deadlock on the China-India border. He said, “The Prime Minister said that his chest is 56 inches. Today the Chinese army is sitting within the Indian border. They have taken thousands of kilometers of Indian land. Even then, the Prime Minister does not have the courage to say a word about China. ” The Congress leader claimed that the Prime Minister devastated the economy and weakened the country, so China could dare to enter the country. (Agency)

प्रधानमंत्री के जरिए अर्नब को मिली थी बालाकोट एयर स्ट्राइक की जानकारी: राहुल

करूर. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सोमवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ही ‘वह व्यक्ति हैं जिनके जरिए’ बालाकोट एयर स्ट्राइक से पहले ही उसकी जानकारी ‘रिपब्लिक टीवी’ (Republic TV) के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को मिली। बहरहान, उन्होंने अपने दावे को लेकर कोई सबूत पेश नहीं दिया। प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से भी फिलहाल इस दावे पर कोई जवाब नहीं आया है। कांग्रेस नेता ने यहां एक रोडशो के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री समेत सिर्फ पांच लोगों को किसी सैन्य कार्रवाई के बारे में पहले से जानकारी रही होगी।
उन्होंने अर्नब की कथित व्हाट्सएप बातचीत का हवाला देते हुए कहा, ‘‘कुछ दिनों पहले यह जानकारी सामने आई कि एक पत्रकार बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बारे में पहले से जानता था। पाकिस्तान में भारतीय वायुसेना की ओर से बमबारी किए जाने के तीन दिनों पहले ही एक पत्रकार को बता दिया गया कि क्या होने जा रहा है।” राहुल गांधी ने कहा कि इसका यह मतलब हुआ कि वायुसेना के हमारे पायलटों के जीवन को खतरे में डाला गया। उनके मुताबिक, बालाकोट एयर स्ट्राइक के बारे में सिर्फ प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, गृह मंत्री और वायुसेना प्रमुख को जानकारी थी।
उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘इन लोगों के अलावा किसी अन्य को बालाकोट एयर स्टाइक से पहले इसकी जानकारी नहीं थी। अब मैं यह समझना चाहता हूं कि इसकी जांच आरंभ क्यों नहीं हुई कि बालाकोट की कार्रवाई से पहले इसकी जानकारी एक पत्रकार को किसने दी। कारण यह है कि इन पांच लोगों में से किसी ने इस व्यक्ति को बताया। इनमें से किसी ने ही हमारी वायुसेना के साथ विश्वासघात किया।” कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दावा किया, ‘‘अगर प्रधानमंत्री ने ऐसा नहीं किया तो फिर वह जांच का आदेश क्यों नहीं दे रहे हैं। इस बारे में सोचिए। प्रधानमंत्री जांच का आदेश नहीं दे रहे हैं तो इसका सिर्फ एक कारण है कि वह खुद वही व्यक्ति हैं जिसके जरिए यह सूचना पत्रकार तक पहुंची।”
उन्होंने यह भी कहा कि अगर ऐसा नहीं है तो प्रधानमंत्री को जांच करानी चाहिए और यह बताना चाहिए कि सूचना किसने दी थी। राहुल गांधी ने चीन-भारत सीमा पर गतिरोध को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने कहा कि उनका सीना 56 इंच का है। आज चीन की सेना भारतीय सीमा के भीतर बैठी हुई है। हजार किलोमीटर भारतीय जमीन को उन्होंने कब्जे में ले लिया है। इसके बाद भी प्रधानमंत्री की हिम्मत नहीं है कि वह चीन के बारे में एक शब्द बोल दें।” कांग्रेस नेता ने दावा किया कि प्रधानमंत्री ने अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया और देश को कमजोर कर दिया, इसलिए चीन इस देश के भीतर घुसने की हिम्मत कर सका।(एजेंसी)

Follow us on facebook

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0493438