Chhattisgarh COVID-19 Korba CG

राजस्व मंत्री के अथक प्रयासों से दर्री-गोपालपुर कोरबा में सिविल सेक्टर का केन्द्रीय विद्यालय आया अस्तित्व में

कोरबा विधायक व राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के प्रयासों से सिविल सेक्टर में स्थापित हो सका केन्द्रीय विद्यालय

इसके निर्माण में किसी भी औद्योगिक प्रष्ठिान की नहीं ली गई कोई सहायता

पूर्व में एनटीपीसी परिसर में बालको द्वारा संचालित होता रहा यह केन्द्रीय विद्यालय

अब हर वर्ग के विद्यार्थियों को इस विद्यालय में प्रवेश की मिल सकेगी सुविधा

कोरबा 21 जनवरी 2021- गोपालपुर में नव निर्मित केन्द्रीय विद्यालय भवन के उद्घाटन अवसर पर प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस विद्यालय के संचालन से अब आम नागरिकों के बच्चों को केन्द्रीय विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने के लिए बहुत बड़ी सुविधा प्राप्त हो गई है। उन्होेनें आगे कहा कि कोरबा का यह पहला केन्द्रीय विद्यालय होगा जहां आम नागरिक अपने बच्चों को सुगमता से प्रवेश दिलवा सकेंगे।
राजस्व मंत्री ने अपने उद्बोधन में उपस्थित समूह को सम्बोधित करते हुए बताया कि एनटीपीसी परिसर में केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक 4 का संचालन पूर्व में बालको प्रबंधन द्वारा किया जाता था। निजीकरण के बाद बालको का संचालन वेदांत समूह द्वारा किया जाने लगा। वेदांत समूह प्रबंधन ने केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक 4 का संचालन बंद करने का निर्णय लिया जिससे विद्यार्थियों के लिए इस विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने की सुविधा पर प्रश्न चिह्न लग गया। बच्चों के भविष्य को देखते हुए 2007-08 में केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री अर्जुन सिंह के बिलासपुर आगमन पर मुलाकात कर कोरबा में सिविल सेक्टर का केन्द्रीय विद्यालय स्थापित करने की मांग रखी जिसकी घोषणा उन्होंने की थी। केन्द्रीय मंत्री की घोषण के अनुरूप इस प्रोजेक्ट विद्यालय को सिविल विद्यालय के रूप में वर्ष 2011 में परिवर्तित किया गया। बीसीपीपी द्वारा संचालित केन्द्रीय विद्यालय में ज्यादातर विद्यार्थियों की संख्या दर्री-जमनीपाली-छुरी-कटघोरा-बांकी-बलगी आदि क्षेत्रों की थी अतएव इसकी स्थापना के लिए गोपालपुर को उपयुक्त समझा गया और आज इस विद्यालय का उद्घाटन करते हुए मुझे बेहद प्रसन्नता हो रही है कि मेरी मेहनत और मेरे द्वारा किए गए अथक प्रयासों का परिणाम है कि अब इस क्षेत्र के बच्चों को अन्यत्र नहीं भटकना पड़ेगा। राजस्व मंत्री ने बताया कि केन्द्र और राज्य सरकार के अधिकारियों और कर्मचारियों केे एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानांतरण होने पर उनके बच्चों की शिक्षा प्रभावित न हो इस सोच के तहत् 1963 में भारत के पूर्व प्रधान मंत्री स्व. जवाहर लाल नेहरू जी द्वारा केन्द्रीय विद्यालय संगठन की स्थापना की गई थी। इस समस्या के निदान के लिए केन्द्रीय विद्यालय संगठन की अहम भूमिका है और आज देश में 1245 स्कूल संचालित हो रहे हैं। जयसिंह अग्रवाल ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि वे क्षेत्र के विकास के लिए कृत संकल्पित हैं और आम नागरिकों की सुविधा के लिए शासन की योजनाओं के तहत जो कुछ भी संभव होगा वे अवश्य करेंगे।
विद्यालय की प्राचार्य श्रीमती संध्या लकड़ा ने बताया कि वर्तमान समय में विद्यालय में कक्षा पहली से 10वीं तक दो सेक्शन और ग्यारहवीं एवं बारहवी के एक-एक सेक्शन संचालित हो रहे हैं और वर्तमान में पंजीकृत विद्यार्थियों की कुल संख्या 1024 है।
विद्यालय की अध्यक्ष व कोरबा जिला कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इस विद्यालय के अस्तित्व में आने के बाद क्षेत्र के विद्यार्थियों को गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्राप्त करने के साथ ही सर्वांगीण विकास के अवसर प्राप्त होंगे।
उल्लेखनीय है कि विद्यालय उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक‘ ने आॅन लाईन उद्घाटन किया और कोरबा की जनता को बधाईयां और शुभकामनाएं दीं।
विद्यालय के निर्माण पर लगभग 14 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत आई जिसमें आवश्यक सभी आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं ताकि विद्यार्थियों को पठन-पाठन कार्य के लिए किसी प्रकार की असुविधा न हो। लगभग दस एकड़ के विद्यालय परिसर में बनाए गए भव्य भवन के साथ ही विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास की दृष्टि से बाॅस्केटबाॅल, बैडमिंटन, बाॅलीबाॅल, हैण्डबाॅल कोर्ट भी बनाए गए हैं।
इस गरिमामयी कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के तौर पर छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरणदास महंत एवं कोरबा सांसद श्रीमती ज्योतसना महंत ने क्षेत्रवासियों के लिए संदेश भेजे थे जिनका वाचन मंच से किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व कटघोरा विधायक पुरूषोत्तम कंवर, पाली तानाखर विधायक मोहित राम केरकेट्टा, रामपुर विधायक ननकी राम कंवर, नगर पालिक निगम कोरबा महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद, सभापति श्री श्याम सुन्दर सोनी, स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता मिशन सचिव श्रीमती अनीता करवाल, केन्द्रीय विद्यालय संगठन आयुक्त श्रीमती निधि पाण्डेय, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, बिलासपुर एस.के. मिश्रा, उपायुक्त केन्द्रीय विद्यालय संगठन रायपुर संभाग सुश्री चंदना मण्डल, व सहायक आयुक्त रायपुर संभाग ए.के. मिश्रा, एसडीएम कटघोरा अभिषेक शर्मा, विद्यालय एनटीपीसी की प्राचार्य श्रीमती ए. नागमणि, कुसमुडा केन्द्रीय विद्यालय प्राचार्य राजीव कुमार सिंह, जवाहर नवोदय विद्यालय प्राचार्य देवेन्द्र कुमार जैन, कोरबा नगर निगम के पूर्व सभापति धुरपाल सिंह कंवर, महिला कांग्रेस की प्रदेश महामंत्री श्रीमती रेखा त्रिपाठी, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह ठाकुर, एल्डर मैन मनीराम साहू, आशीष अग्रवाल, पुरान दास महन्त, वरिष्ठ कांग्रेसी विनोद अग्रवाल, डा. शेख इस्तियाक, सहित बड़ी संख्या में स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं अभिभावकगण उपस्थित रहे।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Follow us on facebook

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0493246