Crime WEB

भारत के 500 यूजर्स को किया अलर्ट Google ने

नई दिल्ली। हाल ही में व्हाट्सएप पर डेटा लीक जासूसी का मामला सामने आया था जिसमें एक स्पायवेयर की मदद से यूजर्स के फोन में घुसकर जानकारियां निकाली गईं थीं। इनमें कुछ भारतीय भी शामिल थे और इस पर खूबर राजनीति भी हुई थी। इसके बाद अब सर्च इंजन कंपनी गूगल ने 500 लोगों को सायबर हमले का अलर्ट भेजा है। गूगल ने दुनियाभर के बारह हजार यूजरों को सरकार समर्थित साइबर हमलावरों से सचेत किया था। इनमें पांच सौ से ज्यादा भारतीय यूजर भी शामिल थे। कंपनी का दावा है कि यह हमले इस साल जुलाई से सितंबर के दौरान हुए थे। यह जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब हाल ही में वाट्सएप ने कहा था कि इजरायली स्पाइवेयर पेगासस के जरिए सौ से ज्यादा भारतीयों समेत दुनिया भर में पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की जासूसी कराई गई थी। गूगल ने एक ब्लॉगपोस्ट में कहा है कि उसके धमकी विश्लेषण समूह (टीएदजी) ने 50 से ज्यादा देशों में 270 से ज्यादा लक्षित या सरकार समर्थित साइबर हमलावर समूहों को ट्रैक किया। इन समूहों के कई लक्ष्य थे, जिसमें खुफिया जानकारी एकत्र करना, बौद्धिक संपत्ति की चोरी, विरोधियों और कार्यकर्ताओं को लक्षित करना, विनाशकारी साइबर हमले या भ्रामक खबरे फैलाना शामिल है
गूगल के थ्रेट एनालिस्ट ग्रुप के हेड शेन हंटली ने एक बयान में कहा है कि, जुलाई से सितंबर 2019 के बीच हमने 149 देशों के 12,000 यूजर्स को चेतावनी भेजी कि उन्हें सरकार समर्थित हमलावरों ने निशाना बनाया है। 2017-18 में भी लगभग इतने ही लोगों को चेतावनी भेजी गई थी। उन्होंने आगे कहा कि हमारी यह पुरानी पॉलिसी है कि हम अपने यूजर्स को इस तरह के खतरों के बारे में चेताते हैं। हमने समय-समय पर इसकी जानकारी दी है।
Google ने दावा किया है कि उसने इस साल जुलाई से सितंबर के बीच 500 भारतीयों को सायबर हमले के बारे में सतर्क किया।

Live Videos

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0126903