Chhattisgarh COVID-19

नरवा, घुरूवा, गरवा, बाड़ी योजना से ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक परिवर्तन किसान हुए आर्थिक तरक्की की ओर अग्रसर

जिले में गोधन न्याय योजना के तहत 6 करोड़ 97 लाख 71 हजार रूपए का भुगतान विभिन्न योजनाओं के तहत किसान हो रहे लाभान्वित
ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों एवं महिलाओं के जीवन में शासन की नरवा, घुरूवा, गरवा, बाड़ी योजना से व्यापक परिवर्तन आए हैं। खेत-खलिहानों में गली चौराहों में एक जागरूकता की लहर आई है। जिससे किसान आर्थिक तरक्की की ओर अग्रसर हुए हैं और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में मजबूती आई है। यही वजह है कि देशव्यापी लॉकडाउन के बावजूद छŸाीसगढ़ में कृषि के क्षेत्र में आर्थिक तेजी रही। जिसे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से भी सराहना मिली। गोधन न्याय योजना एवं राजीव गांधी किसान न्याय योजना किसानों के हित के लिए मील का पत्थर साबित हुई। ऐसे संकट के समय में उन्हें सरकार से सहायता मिली। जिले में गोधन न्याय योजना के तहत 6 करोड़ 97 लाख 71 हजार रूपए का भुगतान पशुपालकों को किया गया। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 1 लाख 65 हजार 275 किसानों को 358 करोड़ 69 लाख 65 हजार रूपए धान बोनस की राशि प्रदान की गई।
कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा के मार्गदर्शन में जिले में कृषि कार्यों में गति आई है, वहीं गौठान निर्माण के निरीक्षण से गौठान की व्यवस्था सुदृढ़ हो रही है। उप संचालक कृषि श्री जीएस धु्रर्वे ने बताया कि किसान समृद्धि योजना के तहत (राज्यांश एवं केन्द्रांश) 24 लाख 25 हजार रूपए, जैविक खेती मिशन के तहत 8 लाख 36 हजार रूपए, केन्द्र प्रवर्तित एनएमएसए अंतर्गत पुर्नगठित राष्ट्रीय बांस मिशन योजना के तहत 14 लाख 27 हजार रूपए, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (चावल) के तहत 1 करोड़ 46 लाख 54 हजार रूपए, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (दलहन) के तहत 1 करोड़ 52 लाख 43 हजार रूपए, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (तिलहन) के तहत 37 लाख 81 हजार रूपए की राशि प्रदान की जा रही है।

About the author

Mazhar Iqbal #webworld

Indian Journalist Association
https://www.facebook.com/IndianJournalistAssociation/

Add Comment

Click here to post a comment

Follow us on facebook

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0503682