Bilashpur Chhattisgarh COVID-19

जिले से बाहर जाने के लिये ऑनलाइन आवेदन के बाद भी ईपास जारी नहीं किये – तरुण कौशिक

बिलासपुर / लॉकडाउन अवधि में बिलासपुर जिले से बाहर जाने के लिये ई पास जारी करने की ऑनलाइन व्यवस्था की गई है। घर बैठे आवेदकों को इसकी स्वीकृति या अस्वीकृति दी जायेगी। बिलासपुर जिला प्रशासन की ओर से जारी आदेश के अनुसार नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए 14 अप्रैल की सुबह से 21 अप्रैल रात 12 बजे तक जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित है। इस अवधि में अत्यावश्यक सेवा के लिए बिलासपुर जिले से अन्य जिलों में जाने के लिए ई-पास की व्यवस्था की गई है। इसके लिए आवेदक ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। आवेदक को ई-पास के लिए कार्यालय आने की जरूरत नहीं है। ऑनलाइन सीजी कोविड-19 ऐप के माध्यम से आवेदन किया जा सकेगा। आवेदन के बाद आवेदक को स्वीकृति और या फिर अस्वीकृति की जानकारी दी जाएगी। मगर बिलासपुर वासियों के लिए बड़ी ही दुखद विषय है कि जिला प्रशासन द्वारा उक्त एप में आनलाइन आवेदन करने के 24 घंटे के बाद भी ईपास जारी नहीं किए जा रहे है । जिनका उदहारण खुद पत्रकार तरुण कौशिक है। जिन्होंने 17 अप्रैल को सुबह आनलाइन आवेदन पत्र प्रस्तुत कर 19 अप्रैल को प्रेस अखबार प्रकाशन कार्य के लिए बिलासपुर से रायपुर जाने के लिए ईपास जारी करने के लिए आवेदन पत्र प्रस्तुत किए परंतु 24 घंटे बीत जाने के बाद भी ईपास जारी नहीं किया जा रहा है । जिनकी शिकायत वाट्सएप के माध्यम से कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर, अतिरिक्त कलेक्टर बी.एस.उइके से करने के बाद भी इस खबर को लिखे जाने तक ईपास जारी नहीं किए गए थे। अब उक्त वाक्या से यह कहना गलत नहीं होगा कि जब एक वरिष्ठ पत्रकार का ईपास नहीं बन पा रहा है तो आम जनता की क्या स्थिति होगी सहज अंदाजा लगाया जा सकता है।
वहीं वाट्सएप में ईपास जारी नही होने की शिकायत करते ही कलेक्टर एवं अतिरिक्त कलेक्टर ने पत्रकार तरुण कौशिक के नाम को ही ब्लॉग कर दिया है। अब ऐसे में जरुरतमंद लोग जिले से बाहर जाने के लिए क्या कैसे करें मुख्य सचिव अमिताभ जैन ही बताएं तो बेहतर होगा।

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0268210