Chhattisgarh COVID-19 Durg

अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति अंतर्गत आरक्षित वर्ग के स्व सहायता समहों को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए ऋण स्वीकृति हेतु आवेदन आमंत्रित

अधिकाधिक हितग्राहियों को किया जाए व्यवसाय के लिए प्रेरित, योजनाओं से करें लाभान्वित
अध्यक्ष धनेश पाटिल एवं उपाध्यक्ष सुश्री नीता लोधी ने कहा

जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्यादित दुर्ग द्वारा अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक समुदाय के स्व सहायता समूहों को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। योजनांतर्गत पात्र हितग्राहियों को 3-5 लाख रूपए की ऋण स्वीकृति दी जाएगी। स्वरोजगार स्थापित करने के इच्छुक व्यक्ति कलेक्ट्रेटट कार्यालय स्थित जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मार्यादित के कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं। कार्यालय का दूरभाष क्रमांक 0788-2323450 है। छत्तीसगढ़ राज्य अंत्यावसायी सहकारी वित्त एवं विकास निगम के माध्यम से संचालित बैंक प्रवर्तित अंत्योदय स्वरोजगार योजना/आदिवासी स्वरोजगार योजना तथा राष्ट्रीय निगमों की वित्तीय सहायता से अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं सफाई कामगार वर्गों के लिए संचालित योजनाओ की अध्यक्ष श्री धनेश पाटिल एवं उपाध्यक्ष सुश्री नीता लोधी की उपस्थिति में प्रबंध संचालक श्रीमती शम्मी आबिदी द्वारा समीक्षा की गई। समीक्षा करते हुए निर्देश दिए गए कि नवम्बर 2020 अंत तक दोनों योजनाओं में ऋण स्वीकृति एवं वितरण कार्य पूर्ण करे। राष्ट्रीय निगमों की वित्तीय सहायता जैसे ट्रेक्टर-ट्राली, पैसेंजर व्हीकल, ई-रिक्शा, आदिवासी महिला सशक्तिकरण योजना के विभिन्न व्यवसाय जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक 20 अक्टूबर 2020 ऋण संबंधी पूर्ण कराकर निगम मुख्यालय को नवम्बर 2020 तक भेजे।
पथ विक्रेता के कोरोना वायरस व्यवसाय बंद हो गए है एवं बहुत को काम नही प्राप्त होने के मद्देनजर रखते हुए। अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के छोटे-छोटे जो व्यवसायी हैं, वे बेरोजगार ना हो उसके लिए छोटे-छोटे लघु व्यवसाय जैसे ठेले, खोमचे, फेरी, रिक्शा, साइकिल- मरम्मत इत्यादि। अंत्योदय स्वरोजगार योजना एवं आदिवासी स्वरोजगार योजना के अंतर्गत कार्य के लिए बैंकों के माध्यम से उपलब्ध कराने के लिए सभी जिला अधिकारियों को अधिक से अधिक प्रकरण तैयार करने तथा बैंक एवं वितरण करने के निर्देश दिए। साथ ही स्वसहायता समूह को मजबूत करने का निर्णय लिया है। समीक्षा करते हुए स्व सहायता समूह के सदस्यों से जो आवेदन पत्र आए है। उसे कार्यवाही कर स्वीकृति देने के निर्देश दिए गए हैं।
उपाध्यक्ष सुश्री नीता लोधी जी द्वारा जिले के समस्त अधिकारियों को सभी योजनाओं के दिए गए लक्ष्य अनुसार समय सीमा में ऋण प्रकरण तैयार करने एवं ऋण वितरण गुणवत्ता पूर्ण करने के भी सुझाव दिए तथा निगम के द्वारा जरूरतमंदों को ऋण दिया जा रहा है उन्हें ऋण वसूली भी सुनिश्चित किया जाए। अध्यक्ष श्री धनेष पाटिला द्वारा समस्त अधिकारियों को यह ध्यान दिलाया कि अनुसूचित जाति, जनजाति पिछड़ा वर्ग एवं कामगार वर्गों का सेवा करने का अवसर मिला उन्हें आर्थिक मदद जरूरत के रूप में दी जा रही है। लाभ लेने के लिए प्रेरित करें, जिससे योजना का प्रचार-प्रसार हो। इसके लिए छोटे-छोटे गांव जिला पंचायत, जनपद पंचायत, जिस क्षेत्र में लोग ज्यादा रहते हैं वहां ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार किया जाए। जिससे जानकारी प्राप्त हो सकेगी तथा अधिक से अधिक आवेदन प्राप्त किया जा सकेगा।

About the author

Mazhar Iqbal

I J A

Add Comment

Click here to post a comment

Live Videos

Breaking News

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Advertisements

Our Visitor

0196633